Construction of DC Generator in Hindi

इलेक्ट्रिकल मशीन(Electrical Machine): मैं आपको मशीन के बारे में बताना चाहूंगा मशीन एक प्रकार की यांत्रिक युक्ति है। जो ऊर्जा को रूपांतरित करने का कार्य करती है। अर्थात हम बोल  सकते हैं जैसे मोटर, इलेक्ट्रिकल उर्जा को मेकेनिकल उर्जा में परिवर्तित करती है तथा इलेक्ट्रिकल जनरेटर, मैकेनिकल उर्जा को इलेक्ट्रिकल उर्जा में परिवर्तित करता है जिसे हम इलेक्ट्रिकल मशीन कहते हैं।

इस आर्टिकल में हम इलेक्ट्रिकल जनरेटर के बारे में अध्ययन करेंगे इस टॉपिक में हम इलेक्ट्रिकल जनरेटर या D.C. जनरेटर के बारे में अध्ययन करेंगे इस टॉपिक के माध्यम से इसकी बनावट, कार्यप्रणाली, डीसी जनरेटर का वर्गीकरण, सीरीज जनरेटर, शंट जनरेटर, कंपाउंड जनरेटर, आर्मेचर रिएक्शन, कम्यूटेशन, स्पार्किंग, इंटरकोर्स, डीसी जनरेटर में हानियां, डीसी जनरेटर की दक्षता आदि के बारे में अध्ययन करेंगे।

D.C. जनरेटर (Generator): यांत्रिक ऊर्जा को वैद्युतिक उर्जा में परिवर्तित करने वाली मशीन जनरेटर होती है यदि यह मशीन D.C. पैदा करती है, तो D.C. जनरेटर जलाती है और अगर A.C. पैदा करती है तो अल्टरनेटर कहलाती है।

डायनमो(Dynamo): यांत्रिक ऊर्जा से विद्युत ऊर्जा पैदा करने वाली छोटे आकार की मशीन डायनमो कहलाती है। सामान्यतः इसका उपयोग हम छोटे वाहनों जैसे मोटरसाइकिल, स्कूटी आदि में करते है।

D.C. Machine दो प्रकार की होती है

१. डी.सी. मोटर २. डी.सी. जनरेटर

डी.सी. जनरेटर की बनावट

इस आर्टिकल में हम डी.सी. जनरेटर की बनावट के बारे में अध्यन करेंगे

डी.सी. जनरेटर और डी.सी. मोटर की बनाबट सामान होती है और इनमे ४ प्रकार की वाइंडिंग का उपयोग किया जाता है

  • आर्मेचर वाइंडिंग
  • फील्ड वाइंडिंग
  • प्रतिकारी (Compensating) वाइंडिंग
  • Inter Pole वाइंडिंग

डी.सी. जनरेटर के भाग (Parts Of D.C. Generator)

डी.सी. जनरेटर के विभिन्न भाग से मिलकर बना होता नीचे हम इनके बारे में पड़ेंगे

स्थिर भाग(Stationary Parts)

वह भाग जो डी.सी. जनरेटर की कार्य करने की अवस्था में स्थिर रहेते हैं Stationary Parts कहलाते हैं

योक (Yoke): ये कास्ट आयरन, कास्ट स्टील का बना होता है

योक के कार्य:

  • मैकेनिकल सुराचा प्रदान करना
  • पोल को स्थाफित करना
  • चुम्बकीय परिपथ में कम Low Reluctance का मार्ग प्रदान करना होता है

पोल(Pole):

  • यह लैमिनेटेड सिलिकॉन स्टील के बने होते हैं
  • Pole Shoe का अनुप्रस्थ काट क्षेत्रफल Pole Core से अधिक होता है
  • Pole Shoe के समरूप चुंबकीय क्षेत्रफल स्थापित किया जाता है

Field Winding: ये दो प्रकार की होती है सीरीज और शंट वाइंडिंग

सीरीज वाइंडिंग: इसमें कम घेरे और मोटा तार उपयोग में लाया जाता है

शंट वाइंडिंग: इसमें ज्यादा घेरे और पतला तार उपयोग में लाया जाता है

इन दो वाइंडिंग के आलावा भी डी.सी. जनरेटर में दो और वाइंडिंग होती हैं

प्रतिकारी (Compensating) वाइंडिंग: यह Pole Shoe पर स्तिथ होती है

Inter Pole वाइंडिंग: यह फील्ड वाइंडिंग के दो Poles के बीच होती है

इसके अलावा भी डी.सी. जनरेटर में बहुत स्थिर भाग होते हैं कवर, बेअरिंग, एंड कवर, रॉकर प्लेट, बेड प्लेट आदि भाग होते हैं इनके बारे में हम बाद में यहाँ पर लिखेंगे

चालित भाग (Rotating Parts)

वह भाग जो जनरेटर के काम करने की दिशा में घूमते रहेते हैं रोटेटिंग भाग कहेलाते हैं

आर्मेचर (Armature): इसका आकर वेलनाकार होता है इसे Slot तथा Teeth के आकर में बनाया जाता है

आर्मेचर की वाइंडिंग दो प्रकार की होती है

  • लैप वाइंडिंग २. वेब वाइंडिंग

लैप वाइंडिंग: यह पश्चगामी (Retrograde) प्रकार की होती है इसमें समांतर पथो की संख्या A=P  होती है इसे हम High Current और Low Voltage जनरेटर उपयोग में लेते हैं यह Parallel Winding होती है

वेब वाइंडिंग: यह अग्रगामी (Pioneer) प्रकार की होती है इसमें समांतर पथो की संख्या A=2 होती है इसे हम Low Current और High Voltage जनरेटर उपयोग में लेते हैं यह Series Winding होती है

वेब वाइंडिंग में Dummy Coil का उपयोग किया जाता है, Dummy Coil का उपयोग डी.सी. मशीन में मैकेनिकल Balance के लिए किया जाता है

Previous articleBasic Electrical Theory In Hindi: Matter, Atomic Structure
Next articleDC Generator Working Principle In Hindi
मोहम्मद साजिद अंसारी
मेरा नाम मोहम्मद साजिद अंसारी है मै अभी M.Tech(Power System) का Student हूँ । मेने ये ब्लॉग उन सभी Students के लिए बनाया है, जो लोग इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के स्टूडेंट्स हैं और सरकारी एग्जाम की तैयारी कर रहें हैं । इसके आलावा आप इलेक्ट्रिकल फॉर हिंदी के YouTube चैनल को भी सब्सक्राइब करें । नीचे दी गयी लिंक से ब्लॉग को सोशल मीडिया पर फॉलो करें ।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.