Basic Electrical DC Circuit Theory Circuit Element And Definition In Hindi

किसी भी  विद्युत परिपथ(Electric Circuit) का विश्लेषण करने के लिए मतलब की दिए गए परिपथ में किसी शाखा(Branch) में धारा(Current) निकालने के लिए यह किन्ही दो नोड के मध्य विद्युत विभवांतर(Voltage) निकालने के लिए परिपथ के विभिन्न अवयवों या तत्वों(Elements) और परिभाषाओं (Definition) का का ज्ञान होना हमें आवश्यक है । अगर हमें इन अवयवों और परिभाषाओं का ज्ञान होगा तो हम आसानी से परिपथ का विश्लेषण कर सकते हैं तथा परिपथ के अवयवों का मान निकाल सकते हैं । दोस्तों हम इस आर्टिकल के माध्यम से परिपथ के विभिन्न अवयवों और परिभाषाओं के बारे में जानकारी  लेंगे ।

हम आर्टिकल के माध्यम से निम्न का अध्ययन करेंगे जैसे विद्युत परिपथ (Electric Circuit), रेखीय अवयव (Liner Elements), रेखीय परिपथ(Liner Circuit), अरेखीय अवयव (Liner Elements), अरेखीय परिपथ (Non-Liner Circuit ), एक तरफा परिपथ(Unilateral Circuit), दो तरफा परिपथ(Bilateral Circuit), विद्युत जाल (Electric Network), सक्रिय जाल(Active Network), निष्क्रिय जाल (Passive Network), नोड (Node), जंक्शन/संगम (Junction), शाखा(Branch), लूप(Loop), मेष या जाल(Mesh), सक्रिय तत्व(Active Elements), निष्क्रिय तत्व(Passive Elements), एक तरफ आता(Unilateral Elements), दो तरफा तत्व(Bilateral Elements) के बारे में बेसिक परिभाषा और उनके बारे में थोड़ा बताएंगे आगे के आर्टिकल में मैं इन सभी के बारे में विस्तार से आपको बताऊंगा ।

परिपथ तत्व (Circuit Elements)

परिपथ(Circuit) में तत्व (Elements) का उपयोग किया जाता है । यह किसी परिपथ के मुख्य घटक(Main Components) होते हैं । यह दो प्रकार के होते हैं 1.सक्रिय तत्व(Active Elements) 2. निष्क्रिय तत्व(Passive Elements)  इनका उपयोग करके ही सक्रिय(Active) और निष्क्रिय(Passive Circuit) परिपथ का निर्माण किया जाता है ।

सक्रिय तत्व (Active Elements)

यह वह तत्व होते हैं जो किसी परिपथ में ऊर्जा प्रदान करते हैं जिससे परिपथ में वोल्टेज और धारा उत्पन्न होती है । इस प्रकार के तत्वों को सक्रिय तत्व कहते हैं । Voltage और Current स्रोत (Sources) सक्रिय तत्व  कहलाते हैं ।

सक्रिय जाल (Active Network)

इस प्रकार के परिपथ में सक्रिय तत्वों का प्रयोग जरूर किया जाता है, इस प्रकार के परिपथ में इनका उपयोग करंट धारा तथा वोल्टेज स्रोत के रूप में किया जाता है । इस प्रकार के सक्रिय परिपथों में इन तत्वों की  संख्या एक या एक से अधिक हो सकती है लेकिन कम से कम एक  सक्रिय ऊर्जा या सक्रिय तत्व स्रोत का होना आवश्यक होता है जिसके कारण यह सक्रिय परिपथ कहलाते हैं ।

निष्क्रिय तत्व (Passive Elements):

ऐसे तत्व जिनका उपयोग परिपथ में ऊर्जा स्रोत के रूप में नहीं किया जाता है निष्क्रिय तत्व कहलाते हैं निष्क्रिय तत्व में Resistor, Capacitor, Inductor आते हैं ।

निष्क्रिय जाल (Passive Network)

जिन परिपथ में हम ऊर्जा स्रोत का उपयोग नहीं करते हैं उन्हें हम निष्क्रिय परिपथ कहलाते हैं इस प्रकार के परिपथ में निष्क्रिय तत्व का उपयोग किया जाता है ।

विद्युत परिपथ (Electric Circuit)

ऐसा बंद मार्ग जिसने विद्युत धारा का प्रभाव आसानी से हो सके परिपथ कहलाता है यानि कि किसी परिपथ में विद्युत धारा के प्रवाह के लिए उसका बंद होना जरूरी है तभी उसमें से विद्युत धारा प्रवाहित होगी ।

रेखीय अवयव या तत्व (Liner Elements)

ऐसे तत्व जिनके मान को बदल नहीं सकते हैं इनका मान हमेशा स्थिर बना रहता है उन्हें हम रेखीय तत्व कहते हैं इस प्रकार के तत्व आउटपुट की धारा या वोल्टेज के समानुपाती होते हैं कहने का मतलब यह है कि अगर इनकी सहायता से इनपुट को हम दोगुना करते हैं तो आउटपुट भी दोगुना हो जाता है । Resistor, Capacitor, Inductor Liner Elements कहलाते हैं ।

रेखीय परिपथ(Liner Circuit)

जिस परिपथ में हम रेखीय तत्व का उपयोग करते हैं उन्हें हम रेखीय परिपथ कहते हैं । इस प्रकार के परिपथो में लगे हुए तत्वों का मान स्थिर बना रहता है चाहे धारा या वोल्टेज के मान में परिवर्तन होता रहे । इनमे वोल्टेज-धारा अभिलक्षण भी एक सीधी रेखा में प्राप्त होते हैं ।

अरेखीय अवयव या तत्व (Non-Liner Elements)

ऐसे तत्व जिनके मान को हम बदल सकते हैं अर्थार्थ जिन तत्वों का मान स्थिर नहीं होता है उन्हें हम हर अरेखीय तत्व कहते हैं । ऐसे तत्व परिपथ की इनपुट वोल्टेज या करंट धारा के अनुसार अपने मान को बदलते हैं । इनके उदारण Transistors, Vacuum Tubes और दुसरे Semiconductor Devices होते हैं ।

अरेखीय परिपथ (Non-Liner Circuit)

ऐसे परिपथ जिनमें अरेखीय तत्वों का उपयोग किया जाता है अरेखीय परिपथ कहलाते हैं । इस प्रकार विद्युत परिपथ में उपस्थित अरेखीय अवयव या तत्व, वोल्टेज और धारा के मान में परिवर्तन करने से बदलते हैं । इस प्रकार के परिपथ में वोल्टेज-धारा अभिलक्षण अरेखीय या वक्रीय प्रकार का प्राप्त होता है । इस प्रकार के तत्व ओह्म के नियम का पालन नहीं करते हैं ।

अरेखीय परिपथ (Non-Liner Circuit)

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.